गुरुवार, 1 दिसंबर 2016

हिन्दी ब्लॉग से कमाई कैसे करें

हिन्दी ब्लॉग से कमाई करना अब हिन्दी ब्लॉगर्स के लिए कठिन नहीं रहा है। बस ज़रूरत है तो Real और Genuine तरीकों का इस्तेमाल। हिन्दी ब्लॉगर्स आज कल अपने हिन्दी ब्लॉग से कमाई करने के लिए Google AdSense, Affiliate Marketing, Sponsor Posts और Link Shortner का प्रयोग तेजी से कर रहे हैं। आज हम आपको इन चार जेन्युइन तरीकों के बारे में विस्तारपूर्वक बताएंगे।


हिन्दी ब्लॉग से कमाई कैसे करें, How to Earning from Hindi Blogs

Google AdSense से

Google ने Google AdSense Program की शुरूआत 18 जून, सन् 2003 को किया था। Google AdSense से कमाई करने के लिए ही अधिकांश ब्लॉग लिखे जाते हैं। और जब से ( दिसंबर, 2014 से ) गूगल एडसेंस ने हिन्दी ब्लॉग के लिए भी Approval देना शुरू किया है। तब से कई हिन्दी ब्लॉग तेजी से बन रहे है और अच्छी खासी कमाई भी कर रहे हैं। वैसे हर हिन्दी ब्लॉगर चाहता है कि उसको भी एडसेंस का अकाउंट मिले लेकिन ये उतना आसान नहीं है। फिर भी Google AdSense से कमाई करने वाले हिन्दी ब्लॉग्स की संख्या दिनोंदिन बढ़ती ही जा रही है।

Affiliate Marketing से

Affiliate Marketing के माध्यम से भी हिन्दी ब्लॉग से कमाई की जा सकती है। ज़रूरत है तो बस आपके ब्लॉग का ट्रैफिक काफी हाई और गुड क्वालिटी का होना चाहिए। जिससे आप Affiliate Products को sell कर सकें। ब्लॉग वर्ल्ड में कई फेमस ब्लॉगर्स Google AdSense से ज्यादा आमदनी तो, Affiliate Marketing से ही करते हैं। इसी कारण से Affiliate Marketing Google AdSense का एक बेहतरीन विकल्प माना जाता है। Affiliate Marketing के लिए आपको Flipkart Affiliate, Amazon Associate और Snapdeal Affiliate पर अकाउंट बनाना होगा। आप Multi Products Affiliate Programes को भी जॉइन कर सकते हैं, इसी तरह का एक बहुत ही लोकप्रिय प्रोग्राम है Cuelinks प्रोग्राम 



Sponsor Posts से

अगर आपका ब्लॉग ट्रैफिक अच्छा खासा है और आपके ब्लॉग की Alexa Rank भी कम है तो आप Sponsor Posts से अच्छी खासी आमदनी कर सकते है। हिन्दी ब्लॉग जगत में Sponsor Posts के माध्यम से ब्लॉग से कमाई करने वाले ब्लॉग्स की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। Sponsor Posts पाने के लिए आपके ब्लॉग पर daily good quality traffic और Alexa Rank बढ़िया होनी चाहिए। आप चाहे तो स्पांसर पोस्ट्स पाने के लिए इस साइट पर विजिट कर सकते हैं - ब्लॉगमिंट.कॉम

Link Shortener से

अगर आप अपनी हिन्दी ब्लॉग पोस्ट्स को सोशल मीडिया में शेयर करते हैं तो आप कुछ लोकप्रिय Link Shortner से अच्छी खासी आमदनी अर्जित कर सकते हैं। Link Shortener एक तरह का ऐसा software है जो आपके ब्लॉग की पोस्ट लिंक को छोटा या short कर देता है। जब आप इस short link को सोशल मीडिया या अन्य ऑनलाइन साइट्स पर शेयर करते हैं और इन short link पर कोई विजिटर्स क्लिक करके आपके ब्लॉग और वेबसाइट पर पहुँचता है तो आपकी इससे कमाई होती है। इस प्रोग्राम में हर unique visits पर आपकी एक निश्चित आमदनी होगी। Link Shortener से कमाई करने के लिए कुछ Best Sites है - Shorte.st , Binbucks , LinkPaid , Uskip.me

हम उम्मीद करते है कि इन Genuine तरीकों का प्रयोग करके आप हिन्दी ब्लॉग से कमाई कर सकेंगे। आशा है कि इससे आपको फायदा होगा और आपकी आमदनी भी तेजी से बढ़ेगी।

Thank You Readers!!

यह भी पढ़े | Also Read




Keywords - How to Make Money Online Hindi Blogs in Hindi, Hindi Blog se Income, Hindi blog se kamai kaise karen, ब्लॉग से कमाई, ब्लॉग से कमाना, हिन्दी ब्लॉग से आमदनी।

बुधवार, 30 नवंबर 2016

ब्लॉग क्या है और ब्लॉगिंग कैसे करें

ब्लॉग क्या है - What is Blog
ब्लॉग क्या है, What is Blog
ब्लॉग क्या है ? ये सवाल नए हिन्दी ब्लॉगर्स के साथ साथ वो लोग भी पूछते हैं जो ब्लॉग के बारे में जानना चाहते है या फिर अपना ब्लॉग शुरू करना चाहते है। ब्लॉग एक ऑनलाइन पर्सनल डायरी की तरह है जिसे आपके पाठक पढ़ सकते हैं। लेकिन ब्लॉग अब पर्सनल ऑनलाइन डायरी कम, एक सोशल ब्लॉग या वेबसाइट के रूप में लोगों के सामने आ रही है। जो वेब यूज़र्स को ध्यान में रखकर ही लिखी जा रही है।

सही ब्लॉगिंग प्लेटफार्म चुनें - Choose Right Blogging Platform

अगर आप ब्लॉगिंग शुरू करने जा रहे है तो आपको अपने ब्लॉग के लिए सही ब्लॉगिंग प्लेटफार्म चुन लेना चाहिए। हिन्दी ब्लॉग के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग किए जाने वाले ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है - Blogger और WordPress।

Blogger - ब्लॉगर
ब्लॉगर दुनिया का सबसे पुराना तथा लोकप्रिय ब्लॉगिंग प्लेटफार्म है जिसे बाद में गूगल ने खरीद लिया। अब ब्लॉगर गूगल का ही एक प्रोडक्ट है। ब्लॉगर एक फ्री ब्लॉगिंग प्लेटफार्म है जो इसकी लोकप्रियता का सबसे बड़ा कारण है। ब्लॉगर ब्लॉग blogspot.com सब-डोमेन पर चलता है अगर आप अपने ब्लॉग का नाम myblogname रखेंगे तो आपके ब्लॉग का डोमेन या यूआरएल इस प्रकार होगा - myblogname.blogspot.com। अगर आप चाहते है कि ये सब-डोमेन आपके ब्लॉग के साथ ना हो तब आप किसी भी बेस्ट डोमेन प्रोवाइडर वेबसाइट से एक कस्टम डोमेन खरीद कर ब्लॉग पर सेट कर सकते हैं। इससे आपके ब्लॉगर ब्लॉग पर एक वेबसाइट जैसा इफ़ेक्ट पड़ेगा।

WordPress - वर्डप्रेस
वर्डप्रेस के दो ब्लॉगिंग प्लेटफार्म है एक तो है WordPress.org जो सेल्फ होस्टेड है और दूसरा है WordPress.com जो Blogger.com की ही तरह एक फ्री ब्लॉगिंग प्लेटफार्म है। जहाँ WordPress.org के लिए आपको वेब होस्टिंग, थीम्स और प्लगइन्स के लिए पैसे खर्च करने पड़ते है,  तो WordPress.com एक तरह से इसका ट्रायल वर्जन जैसा है जिसमें वर्डप्रेस के सेल्फ-होस्टेड ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म के 90% फीचर्स है। WordPress.com में अगर आपके के ब्लॉग का नाम myblogname है तो आपके ब्लॉग का डोमेन या यूआरएल होगा - " myblogname.wordpress.com "

ब्लॉगिंग कैसे करें - How to Blogging
ब्लॉगिंग कैसे करें, How to Blogging
अपनी पसंद का बेस्ट ब्लॉगिंग प्लेटफार्म चुनने के बाद अब आप ब्लॉगिंग करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। अब हम आपको बताते है कि हिन्दी में बेस्ट ब्लॉगिंग कैसे करें -

  • हिन्दी में बेस्ट ब्लॉगिंग करने के लिए ब्लॉग को नियमित रूप से अपडेट ( Regularly Update ) करें।
  • अच्छे लेख तथा गुणवत्तापूर्ण सामग्री ( High Quality Contents ) का प्रयोग करें।
  • ब्लॉग में इमेजस और वीडियोज ( Images and Videos ) का प्रयोग करें।
  • हिन्दी ब्लॉग में अच्छे पाठकों को पाने के लिए दूसरे हिन्दी ब्लॉग्स पर टिप्पणी ( Comments ) करें।
  • ब्लॉग में पोस्ट किये गए आर्टिकल्स को सोशल मीडिया ( Social Media ) में शेयर करें।
  • ब्लॉग का डोमेन ( Domain ) या यूआरएल अपने दोस्तों और आसपास के लोगों को बताएं तथा ब्लॉग पोस्ट पसंद आने पर उनसें अपने ब्लॉग पोस्ट को शेयर करने की रिक्वेस्ट करें।



Keywords - What is a Blog and How to Blogging in Hindi, Blog kya hai aur Blogging kaise karen, Best Hindi Blogging Platform, Hindi Blogging Full Guide in Hindi.

गुरुवार, 29 सितंबर 2016

कौनसा ऑपरेटिंग सिस्टम है सबसे बेहतर : एंड्रॉइड नूगट या आईओएस-10

Android Nought, iOS-10, एंड्रॉइड नूगट, आईओएस-10
मोबाइल उपभोक्ताओं या स्मार्टफोन यूजर्स में हमेशा से यही बात होती रहती है कौनसा मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे बेहतर है - गूगल का एंड्रॉइड या एप्पल का आईओएस। इस बात को लेकर अक्सर यूजर्स में चर्चा होती रहती है किसका ओएस सबसे बढ़िया और फास्ट सर्विस प्रोवाइड करता है। हालांकि इन दोनों ही ऑपरेटिंग सिस्टम की अपनी-अपनी अलग ही सुविधा है क्योंकि जो फीचर्स एंड्रॉइड में है वो आईओएस में नहीं है और जो सर्विसेज आईओएस में है वो एंड्रॉइड में नहीं है। खैर एंड्रॉइड के लेटेस्ट वर्जन 'एंड्रॉइड नूगट' और आईफोन के ओएस वर्जन 'आईओएस-10' आने के बाद यूजर्स में इस बात को लेकर फिर से यह चर्चा है कौनसा ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे बेहतर है : एंड्रॉइड नूगट या आईओएस-10 ।


आइए जानते हैं एंड्रॉइड नूगट और आईओएस-10 के बारे में


विशेष फीचर - Important Feature


Android Nought
एक साथ कई विंडो का खोलना, बिना ऐप खोले नोटिफिकेशन पर जवाब देना और तेजी से एक विंडो से दूसरी विंडो पर जाना।

iOS-10
'सीरी' के जरिए वॉइस कमांड को सपोर्ट करेंगे ज्यादा ऐप। इस ओएस में बोलकर मैसेज के साथ Cab और होटल भी बुक करा सकते हैं।


इंटरफेस - Interface


Android Nought
एंड्रॉइड यूजर्स इसमें अपनी मर्जी से कई ऐप्स को स्मार्टफोन के होम स्क्रीन पर रख सकते हैं।


iOS-10
आईओएस यूजर्स के लिए पहले से ही सारे ऐप्स होम स्क्रीन पर पहले से ही मौजूद रहते हैं।


मैप - Map


Android Nought
गूगल मैप ( Google Map ) के इस्तेमाल से बेहतर नेविगेशन ( Navigation ) की सर्विस प्राप्त होती है।


iOS-10
इसमें नेविगेशन ( Navigation ) के लिए आधुनिक ( Latest ) मैप है। लेकिन ये अधिकतर देशों में ज्यादा फायदेमंद नहीं है।


इमोजी - Emoji


Android Nought
इस लेटेस्ट एंड्रॉइड वर्जन में 1500 से भी अधिक और ज्यादा नए इमोजी है, जो यूजर्स के लिए लगभग हर हावभाव और स्थिति को रियेक्ट करने लिए काफी है।


iOS-10
इस ऑपरेटिंग सिस्टम में इमोजी ज्यादातर कारगर नहीं है। जैसे गुस्सा दिखाने के लिए बबल्स के रूप में भेजे गए शब्द दूसरे स्मार्टफोन या मोबाइल डिवाइस में फूटे हुए नजर आते हैं।


कंट्रोल - Control


Android Nought
इसमें यूजर्स अपने मनमाफिक कामों और चीजों को करने के लिए आजाद है। इसमें 5 शॉर्टकट आइकन भी है।


iOS-10
कंट्रोल आइकन को बदलने ( Change ) करने की सर्विस नहीं है। इस ओएस में यूजर्स को wi-fi Network पता करने में भी काफी दिक्कत होती है।


सुरक्षा - Security


Android Nought
एंड्रॉइड नूगट में पहले के जारी किये गए सभी वर्जन्स के मुकाबले फाइल इंक्रिप्शन ( File Encryption ) बहुत ज्यादा बेहतर है।


iOS-10
आईओएस-10 में सिर्फ एप्पल स्टोर ( Apple Store ) से ही ऐप्स को डाउनलोड करने की सर्विस होती है। जिससे इस ओएस में मैलवेयर ( Malware ) और वायरस आने का खतरा काफी कम रहता है।



Keywords :- What Operating System is Best Android Nought or iOS -10 in hindi, Android Latest Update Version Android Nought, i-Phone OS Latest Update Version iOS-10, Android Nought Important Features Information in hindi, iOS-10 Important Features Information in hindi, Android Nought Interface Maps Emoji Control Power Security Information in hindi, iOS-10 Interface Maps Emoji Control Power Security Information in hindi.

शुक्रवार, 5 अगस्त 2016

एंड्रॉइड वर्जन एंड्राइड 7.0 का नाम होगा 'नूगट' - Android Version Android 7.0 Nought

गूगल ने एंड्रॉइड के लेटेस्ट वर्जन एंड्राइड - 7.0 ( Android - 7.0 ) को नया आधिकारिक नाम 'नूगट' रखा है। एंड्रॉइड का लेटेस्ट वर्जन अब तक एंड्रॉइड-एन ( Android-N ) के नाम से जाना जाता था।

पिछले कुछ महीनों से एंड्रॉइड के नए वर्जन एंड्राइड - 7.0 को लेकर एंड्रॉइड यूज़र्स में काफी उत्साह देखने को मिल रहा था, लेकिन इस वर्जन का नाम तब तय नहीं हो पा रहा था। गूगल ने एंड्राइड - 7.0 का आधिकारिक नाम तय करने के लिए अपने एंड्रॉइड यूज़र्स से राय भी माँगी थीं। लेकिन यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि एंड्रॉइड - 7.0 का नया नाम लोगों के राय के आधार पर रखा गया है या फिर गूगल ने इसका नाम खुद रखा है।

गूगल ने एक वीडियो भी पोस्ट किया है। जिसमें नए एंड्रॉइड वर्जन के लोगो को नूगट के ऊपर दिखाया गया है।

ध्यान देने योग्य है कि एंड्रॉइड के सभी वर्जनों का नाम अल्फाबेटिकल आर्डर ( अंग्रेजी शब्दों के क्रमानुसार ) में होता है और किसी मिठाई या कैंडी के नाम से ही शुरू होता है। जैसा कि मौजूदा एंड्रॉइड वर्जन का नाम 'मार्शमैलो' ( Marshmallow ) है और इससे पहले वर्जन का नाम लॉलीपॉप ( Lolipop ) था।

नंबर ब्लॉकिंग फीचर शामिल ( Number Blocking Feature Add )

एंड्रॉइड - नूगट का बीटा वर्जन ( Beta Version ) गूगल नेक्सस ( Google Nexus ) के लिए ही जारी किया जा चुका है। इस नए वर्जन में कई बेहतरीन फीचर्स शामिल किए गए हैं, जिनमें सबसे बढ़िया फीचर मल्टी विंडो फीचर, न्यू नोटिफिकेशन और नंबर ब्लॉकिंग फीचर शामिल है।


Keywords खोजशब्द :- Android 7.0 Nought Latest New Features, Android New Version name Nought, Google Android Nought, Google Operating System ( OS ) Android New Version Android 7.0 Nought.

शुक्रवार, 15 जुलाई 2016

पोकेमॉन जीओ/गो गेम एंड्रॉइड ऐप रिव्यू - Pokemon GO Android Game App Review

पोकेमॉन जीओ/गो गेम एंड्रॉयड ऐप, Pokemon GO Android Game
एंड्रॉइड मोबाइल पर अभी तक आपने एंग्रीबर्ड ( Angry Bird ), टेम्पल रन ( Temple Run ), सबवे सर्फर्स ( Subway Surfers ) और कैंडी क्रश ( Candy Crush ) जैसे कई Intresting और Popular गेम खेले होंगे, लेकिन अब एक नए गेम पोकेमॉन जीओ/गो ( Pokmon GO ) की चर्चा जोरों पर हैं। इस गेम को हाल ही में जापानी कंपनी निअंटिक, इंक ( Niantic, Inc ) ने लॉन्च किया है। ये गेम एंड्रॉइड और आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए जारी किया गया है।

इस गेम को 6 जुलाई, 2016 को लांच किया गया। करीब एक सप्ताह ( 1 week ) में लोकप्रिय होते जा रहे इस गेम ने बिक्री के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। ये गेम अब तक 10 मिलियन से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है। एक आँकड़ें जुटाने वाली फर्म के मुताबिक, - 'Pokemon GO Game ऐप पर कई users WhatsApp और Twitter से भी ज्यादा टाइम खेलने में बिता रहे है।'
Pokemon GO Android Game App Review in Hindi
Pokemon GO एक एंड्रॉयड मोबाइल गेम है, जिसमें रियल और ऑगमेंटेड वर्चुअल का combination है। गेमर्स को इसे खेलने के लिए गेमिंग कैरेक्टर 'pokemon' कलेक्ट करना होता है। ये गेम गूगल मैप्स ( Google Maps ) का इस्तेमाल करता है। इस गेम में बेहतरीन ग्राफ़िक्स का भी इस्तेमाल किया गया है। इस गेम को खेलने के दौरान मोबाइल का जीपीएस और कैमरा भी एक्टिव रहता है। इस वजह से ये गेम मोबाइल बैटरी की अच्छी-खासी खपत करेगा। Google Play Store से इस गेम को डाउनलोड कर सकते हैं। फिलहाल ये गेम अभी India के लिए उपलब्ध नहीं है। लेकिन उम्मीद है कि ये गेम जल्द ही इंडियन यूज़र्स के लिए भी आएगा।

पोकेमॉन जीओ/गो एंड्रॉइड गेम को कैसे खेलें गाइड हिन्दी में - How to Play Pokemon GO Android Game Guide in Hindi

How to Play Pokemon GO Android Game Guide in Hindi

  • इस गेम को खेलने के लिए आपको अपने घर या स्थान से बाहर जाना होगा ताकि आप पोकेमॉन को पकड़ कर कलेक्ट कर सके। इस गेम का concept बिल्कुल उसी तरह है जिस तरह 'पोकेमॉन कार्टून सीरीज' में एक पोकेमॉन लीडर का होता था। आप इस गेम को खेलते हुए एक पोकेमॉन लीडर होंगे, जो वास्तविक दुनिया में virtual दुनिया के पोकेमॉन को अपनी पोकेमॉन बॉल में पकड़कर कलेक्ट करेंगे।
  • इस एंड्रॉयड गेम को बिना इंटरनेट के खेला नहीं जा सकता है।
  • ये गेम पेड ( Paid Game ) है यानी इस गेम को खेलने के लिए आपको पहले पैसे देने होंगे, फिर इस गेम को डाउनलोड करके आप खेल सकते है। इस गेम की कीमत 60₹-6,200₹ तक हो सकती है।
Pokemon GO Android and iOS Game
  • इस गेम को एंड्रॉइड संस्करण ( Android Version ) 4.4 से 6.0 में ही खेल सकते है।
  • पोकेमॉन जीओ/गो गेम को खेलने के लिए मोबाइल की रैम ( RAM ) कम से कम 2 जीबी या उससे अधिक होनी चाहिए।
Pokemon GO Android Game App Review Guide
  • इस गेम के लिए एंड्रॉइड मोबाइल में इंटेल एटम प्रोसेसर ( Intel Atom processor ) होना आवश्यक है।
  • ये गेम अभी टैबलेट डिवाइसेस के लिए नहीं है, इसीलिए ज़रूरी नहीं कि ये गेम टैबलेट में चले या ना चले इसकी कोई गारण्टी नहीं है।



Keywords खोजशब्द :- Pokemon GO Android Game App Review in Hindi, Pokemon GO Android and iOS Game, How to play Pokemon GO Android Game Guide in Hindi.

रविवार, 15 मई 2016

यूपी बोर्ड 2016 का रिजल्ट - UP Board Result 2016

यूपी बोर्ड UP Board के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा का रिजल्ट आज दोपहर 12:30 बजे घोषित होगा। यूपी बोर्ड की इस परीक्षा में इस बार 60 लाख से अधिक छात्र-छात्राएँ शामिल हैं।
UP Board Result 2016, upresult.nic.in
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद का रिजल्ट बोर्ड मुख्यालय पर दोपहर 12:30 बजे सभापति अमरनाथ वर्मा एवं सचिव शैल यादव द्वारा परीक्षा का परिणाम घोषित किया जाएगा।

एक बार फिर से यूपी बोर्ड के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का रिजल्ट एक साथ घोषित किये जाएंगे। यूपी बोर्ड हाईस्कूल परीक्षा में 37,49,977 तथा इंटरमीडिएट परीक्षा में 30,43,057 दोनों को मिलाकार कुल 67,93,034 परीक्षार्थी पंजीकृत थे, जिनमें से लगभग 8 लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी थी।

यूपी बोर्ड 2016 का रिजल्ट आप यहाँ देख सकते हैं -

Upresult.nic.in - http://upresults.nic.in/
Results.Amarujala.com - http://results.amarujala.com/


Keywords - Upresults.nic.in 2016, Up Result 2016, UP Board Result 2016, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद का रिजल्ट 2016

मंगलवार, 16 फ़रवरी 2016

इंटरनेट कुकीज ( Internet Cookies ) क्या है?

इंटरनेट का प्रयोग करते समय आपने अक्सर कुकीज के बारे में सुना होगा। आखिर ये इंटरनेट कुकीज ( Internet Cookies ) क्या है? और इसका उपयोग क्या है?

हमारे कंप्यूटर डिवाइस ( डेस्कटॉप और लैपटॉप ) में कई प्रकार की फाइलें होती हैं। कुकीज भी हमारे कंप्यूटर के हार्ड ड्राइव ( Hard Drive ) में मौजूद एक सामान्य टेक्स्ट फाइल ( Text File ) ही है, जो वेब पेज सर्वर ( Web Page Server ) द्वारा हमारे कंप्यूटर में सेव हो जाता है। टेक्स्ट फाइल होने के कारण इसका फाइल एक्सटेंशन ( File Extension ) .txt होता है। इंटरनेट कुकीज के कई नाम है जैसे - वेब कुकीज ( Web Cookies ), ब्राउजर कुकीज ( Browser Cookies ) और एचटीटीपी कुकीज ( HTTP Cookies )|

कुकीज का मुख्य काम सर्वर को इस बात की सूचना देना है कि इंटरनेट यूजर किसी वेब पेज को दोबारा खोलने या एक्सेस करने के लिए वापस लौटा है। कुकीज की सहायता से इंटरनेट यूजर्स के डाटा ( Data ) और समय दोनों की ही बचत होती है।

इसे आप इस तरह समझ सकते हैं। मान लीजिए, इंटरनेट पर आपने गूगल अकाउंट के वेब पेज पर खुद को किसी सर्विस के लिए रजिस्टर किया है। अगली बार जब आप उस वेब पेज पर फिर से वापिस लॉगिन करेंगे, यानी एक्सेस करते हैं तो आपको सारी सूचनाएँ ( जैसे - ईमेल आईडी या यूजरनेम ) फिर से भरनी नहीं पड़ती है। यहीं पर ये कुकीज हमारे बहुत काम आती है।

दरअसल कुकीज आपके लिए एक तरह के आइडेंटिफिकेशन कार्ड के रूप में काम करता है। इंटरनेट की दुनिया में एडवरटाइजिंग साइट्स और ई-कॉमर्स वेबसाइट्स के लिए इंटरनेट कुकीज एक बहुत ही उपयोगी टूल है, जो इंटरनेट सर्फिंग को आसान और तेज बना देता है। कुकीज का इस्तेमाल इंटरनेट पर लॉगइन के लिए ऑथेंटिकेशन टूल के रूप में किया जाता है।

कुकीज कई प्रकार के होते हैं, जिनके अलग-अलग काम होते हैं।

  • सेशन कुकीज ( session cookies )
  • परसिस्टेंट कुकीज ( persistent cookies )
  • सिक्योर कुकीज ( secure cookies )
  • एचटीटीपी ओनली कुकीज ( HTTP only cookies )

इंटरनेट कुकीज के मान के लिए कई पैमाने होते हैं, जैसे नाम, वैल्यू, एक्सपायरी आदि।


Keywords खोजशब्द :- Browser cookies explained in hindi, browser cookies location, browser cookies means, Internet Cookies information in Hindi, internet cookies definition in hindi, internet cookies explained in hindi, internet cookies location, internet cookies means, internet cookies meaning in hindi, Internet Cookies works information in hindi, What is a Internet Cookies in hindi, what are browser cookies used for, what are cookies and what do they do, what are cookies on the internet, what are internet cookies used for, इंटरनेट कुकीज के बारे में हिन्दी में जानकारी

मंगलवार, 9 फ़रवरी 2016

व्हाट्सऐप में डबल ब्लू टिक मार्क फीचर को कैसे हटाएँ


व्हाट्सऐप में डबल ब्लू टिक मार्क फीचर को कैसे हटाया जाएँ? इस तकनीक के बारे में हम बता रहे है इस चिट्ठा/पोस्ट के माध्यम से
    
पहला स्टेप | First Step

व्हाट्सऐप ऐप के सबसे ऊपर राइट साइड में तीन टिक मार्क दिखेंगे। उस पर क्लिक करें

दूसरा स्टेप | Second Step

  1. अब आप उसमें दिख रहे सेटिंगSetting ऑप्शन पर क्लिक करें।
  2. अकाउंट | Account > प्राइवेसीPrivacy में जाए।
  3. Read Receipts में लगे ग्रीन टिक मार्क को हटा दें।


बस इतना करने के बाद से आपके जानने वालों और दोस्तों को ये पता ही नहीं चल पाएगा कि आपने उनके व्हाट्सऐप मैसेज को पढ़ा ( Read ) है या नहीं।


Keywords खोजशब्द :- How to remove WhatsApp double blue tick mark feature in hindi, How to Disable WhatsApp Blue Ticks and Read Receipts in hindi, How to turn off blue tick in WhatsApp in hindi, WhatsApp blue tick disable android in hindi, WhatsApp Double Blue Tick Mark Feature Disable in hindi, WhatsApp double tick blue disable in hindi, WhatsApp double tick hide in hindi

सोमवार, 1 फ़रवरी 2016

हिन्दी इंटरनेट की दुनिया में टेक मी हिन्दी ( TechMeHindi ) साइट क्या है?

आज से हिन्दी इंटरनेट की दुनिया में 'टेक मी हिन्दी' | 'Tech Me Hindi' की शुरूआत हो रही है। हम इस हिन्दी वेबसाइट में अपने सभी रीडर्स को तकनीक, ब्लॉगिंग, ऑनलाइन कमाई, एसईओ, समीक्षा, एंड्रॉइड, ऐप्पस, और नई जानकारियाँ आदि ( Technology, Blogging, Make Money Online, SEO, Reviews, Android, Apps and New Information etc.) सरल भाषा में देंगे।

हम उम्मीद करते है कि 'टेक मी हिन्दी' | 'TechMeHindi' हिन्दी इंटरनेट की दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाने में कामयाब होगा। आज से TechMeHindi पर उम्दा लेखों का  समय-समय अपडेट होते रहेंगे। सादर।।


Keyword खोजशब्द :- TechMeHindi website opening blog post